बीजापुर : क्रॉस फायरिंग में घायल/मृत्यु आम नागरिक के आश्रित को 7 लाख रूपए सहायता राशि स्वीकृत

राज्य शासन गृह विभाग द्वारा नक्सली पीड़ित व्यक्तियों की सुरक्षा एवं पुनर्वास के लिए स्वीकृत संशोधित कार्ययोजना आदेश के तहत अनुशंसा पश्चात् क्रास फायरिंग में गोली लगने से घायल/मृत्यु आम नागरिकों के आश्रित परिवारों में से श्रीमती मासे सोधी को 7 लाख रूपये सहायता राशि स्वीकृत की गई है। यह निर्णय एक महत्वपूर्ण कदम है जो सामाजिक न्याय और सहायता के प्रति सरकार के संवेदनशीलता को दर्शाता है।

मासे सोधी जैसे व्यक्तियों को लगी गोली से हुई चोट ने उनके और उनके परिवार के जीवन में बड़ी हानि पहुंचाई है। इस दुर्दशा में, सरकार का यह प्रयास उन्हें सहायता प्रदान करने के माध्यम से उनका साथ देना है और उन्हें समाज में स्थिति पुनर्निर्माण के लिए साहस और समर्थन प्रदान करना है।

सरकार द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि नक्सली पीड़ित व्यक्तियों और उनके परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान करना उचित है। इससे, उन्हें अपने जीवन को पुनः स्थायी रूप से संचालित करने और समाज में पुनर्मुद्रित होने का मौका मिलता है। मासे सोधी को सात लाख रुपये की सहायता राशि देने के माध्यम से, सरकार उनके और उनके परिवार के अन्य सदस्यों के लिए एक सुरक्षित भविष्य की दिशा में कदम बढ़ा रही है।

सरकारी योजनाओं और कार्यक्रमों के माध्यम से, नक्सली प्रभावित क्षेत्रों में जीवन को पुनः स्थापित करने के लिए संपूर्ण समर्थन और सहायता प्रदान की जा रही है। इसके अलावा, यह संदेश भी दिया जाता है कि सरकार समाज के सबसे असहाय और असमर्थ व्यक्तियों के साथ है, और वह उनकी मदद के लिए प्रतिबद्ध है।

सरकारी संशोधित कार्ययोजना के माध्यम से, सुरक्षित और सुरक्षित साथियों को उनके आधारिक अधिकारों की सुनिश्चितता मिलती है और उन्हें उनके स्थानीय समुदायों में पुनः स्थापित किया जाता है। इस प्रकार, सरकार नक्सली प्रभावित क्षेत्रों में शांति और विकास के लिए योगदान कर रही है और उन सभी को साथ ले जा रही है जो समाज के कमजोर वर्ग में हैं।

समाज में न्याय और समर्थन के प्रति सरकार का यह प्रतिबद्धता संवेदनशीलता का प्रतीक है। इस साथ, हम सभी को समझना चाहिए कि हमें अपने समाज के सबसे असहाय और असमर्थ सदस्यों के साथ खड़ा होना है और उन्हें समर्थन और सहायता प्रदान करना हमारा कर्तव्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *