बिलासपुर : विकसित भारत संकल्प यात्रा पहुंची रानीगांव


केन्द्रीय योजनाओं से ग्रामीणों को अवगत कराने और योजनाओं का फायदा दिलाने विकसित भारत संकल्प की मोबाइल वैन कोटा ब्लॉक के रानीगांव पहुंची। प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरु किए गए विकसित भारत संकल्प यात्रा से आम नागरिकों को काफी फायदा मिल रहा है। यात्रा के तहत लगाए जा रहे शिविर में दिन प्रतिदिन लोगों की भीड़ बढ़ती जा रही है। पांचवे दिन आज विकासखंड कोटा में ग्राम रानीगांव में संकल्प शिविर का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में रानीगांव के जनप्रतिनिधि श्री जनकराम देवांगन, जनपद पंचायत कोटा सीईओ श्री युवराज सिन्हा एवं अन्य अधिकारी कर्मचारीगण उपस्थित रहे। इस शिविर के माध्यम से नागरिक जिन्हें अब तक केंद्रीय योजनाओं का लाभ नहीं मिला है, वे इन योजनाओं के लिए आवेदन दे रहे हैं और इस शिविर के जरिए लोगों को शासकीय योजनाओं की भी जानकारी मिल रही है। शिविर में कृषि विभाग के स्टॉल में किसानों को प्राकृतिक खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया गया। जैविक कीटनाशक बनाने और उसका उपयोग करने के संबंध में जानकारी दी गई। महिला एवं बाल विकास विभाग के स्टॉल में केंद्र सरकार की योजनाओं और पोषण अभियान के संबंध में जानकारी दी गई। स्वास्थ्य विभाग के स्टॉल में मरीजों की सिकलिंग जांच, टीबी स्क्रीनिंग, शुगर जांच, बीपी जांच कर उन्हें निःशुल्क दवाई वितरण किया गया। शिविर में 75 व्यक्तियों की जांच की गई। बैंकर्स द्वारा स्टॉल में प्रधानमंत्री जनधन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना और अटल पेंशन योजना के संबंध में जानकारी दी गई।

यह आयोजन संवेदनशीलता और जागरूकता की दिशा में महत्वपूर्ण धारणा है। ग्रामीण क्षेत्रों में सरकारी योजनाओं के लाभ का उपयोग करने के लिए लोगों को इस तरह की जानकारी बहुत आवश्यक है। यह संवेदनशीलता न केवल उन्हें अधिक जानकारी प्रदान करती है, बल्कि उन्हें उनके अधिकारों और सुविधाओं के लिए भी जागरूक करती है। इस रूप में, ऐसे शिविर और कार्यक्रम ग्रामीणों के लिए अच्छे उपाय सिद्ध होते हैं जो उन्हें सामाजिक और आर्थिक दृष्टि से मजबूत बनाते हैं।

इस संदर्भ में, रानीगांव में आयोजित इस शिविर ने ग्रामीण जनता को विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभ और उनके अधिकारों के बारे में जागरूक किया है। कृषि, स्वास्थ्य, और महिला विकास जैसे क्षेत्रों में उपलब्ध सुविधाओं का समर्थन करने के लिए इस तरह के कार्यक्रम अत्यंत महत्वपूर्ण होते हैं। इनके माध्यम से, लोगों को न केवल योजनाओं के बारे में जानकारी मिलती है, बल्कि उन्हें योजनाओं के लाभ तक पहुंचने में भी सहायता मिलती है।

सारांशत: ऐसे सामाजिक उत्सव और जागरूकता कार्यक्रम गाँवों में ग्रामीणों की सकारात्मक सोच और उनके विकास को संजीवनी देते हैं। इन्हें सफल बनाने के लिए सरकार, सामाजिक संगठन, और स्थानीय नेताओं के सहयोग की आवश्यकता होती है ताकि हर व्यक्ति अपने अधिकारों का सही रूप से लाभ उठा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *