मनेंद्रगढ़: विद्यार्थियों एवं शिक्षकों ने महात्मा गांधी को अर्पित की श्रद्धांजली

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के निर्वाण दिवस को 30 जनवरी को भारत में शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस अवसर पर देशवासियों ने अपने प्रिय गांधीजी को श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके द्वारा दिखाए गए आदर्शों को स्मरण किया। शहीद दिवस के मौके पर भारतीयों ने उन सम्माननीय वीरों को भी याद किया, जो अपने प्राणों की आहुति देकर देश की स्वतंत्रता के लिए संघर्ष किया।

इस दिन, स्वामी आत्मानन्द इंग्लिश मिडियम स्कूल, मनेन्द्रगढ़ में एक साधारण तौर पर शहीद दिवस का आयोजन किया गया। जिला शिक्षा अधिकारी श्री अजय मिश्रा, कार्यालयीन कर्मचारी, और विद्यालय के प्राचार्य श्री रामाश्रय शर्मा के साथ, शिक्षकों और छात्रों ने एक मौन अवधि में शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस दौरान, वे वीर भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद, राजगुरु, और अन्य स्वतंत्रता सेनानियों को याद किया, जिन्होंने अपने जीवन की आहुति दी थी ताकि हम स्वतंत्रता के लिए स्वतंत्र हो सकें।

इस अवसर पर, शहीदों की बहादुरी और उनके त्याग को याद करते हुए, स्कूल के सभी विद्यार्थी और शिक्षकों ने गांधीजी के संदेशों को अपनाने का संकल्प लिया। यहाँ उन्होंने देश के स्वाधीनता संग्राम में शामिल होने वाले सभी योद्धाओं को सलामी दी और उनके योगदान को माना।

शहीद दिवस के अवसर पर शहर के सभी स्कूलों ने भी इस घटना को समर्पित किया। छात्रों और शिक्षकों ने एक साथ आकाश में दीप जलाकर और दो मिनट के मौन का पालन करके उन वीरों को याद किया, जिन्होंने अपने देश के लिए अपना सर्वस्व अर्पित किया।

शहीद दिवस का यह समारोह न केवल हमें हमारे वीर शहीदों के प्रति समर्पित करता है, बल्कि हमें याद दिलाता है कि हमें स्वतंत्रता का महत्व समझना चाहिए और हमें अपने देश की रक्षा और समृद्धि में सक्रिय योगदान देना चाहिए। यह समारोह हमें उनकी बलिदानी भावना को समझने के लिए प्रेरित करता है और हमें समाज के हर व्यक्ति के सम्मान और समृद्धि की दिशा में सकारात्मक योगदान करने की प्रेरणा देता है।

इस रूप में, शहीद दिवस हमें हमारे इतिहास के महत्वपूर्ण घटनाओं को याद दिलाता है और हमें एक सकारात्मक सोच और समाज निर्माण के लिए प्रेरित करता है। इसके माध्यम से, हम अपने वीर शहीदों के साथ हमेशा उनकी याद में उनके बलिदान को समर्पित रहेंगे और उनके सपनों को पूरा करने के लिए काम करते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *