परियोजना निदेशक श्री चौहान ने ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक ली

सारंगढ़-बिलाईगढ़ क्षेत्र में, 30 जनवरी 2024 को जनपद पंचायत सारंगढ़ के सभा कक्ष में एक महत्वपूर्ण समीक्षा सत्र आयोजित किया गया। इस सत्र में, परियोजना निदेशक ने जिला ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा की, जिसमें प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत वर्ष 2016-17 से 2023 तक के अपूर्ण आवासों को पूरा करने के तकनीकी सहायक वार लक्ष्यों पर चर्चा की गई।

उसने आगे बढ़ते हुए आवासों के लिए तकनीकी सहायक वार लक्ष्यों की भी जांच की। साथ ही, आवास प्लस के हितग्राहियों की ग्राम सभा द्वारा पात्रता का विवरण भी प्रस्तुत किया गया, और उन गांवों को भी देखा गया जिनके पंचायतों से ग्राम सभा कार्यवाही की जानी चाहिए थी, लेकिन अबतक नहीं की गई थी। उन्हें निर्देश दिया गया कि इसे जल्दी से जल्दी मांगा जाए।

अगले सप्ताह से, जिन तकनीकी सहायकों के आवासों की पूर्ति में कमी रहेगी, उन्हें प्रत्येक ब्लॉक से 2-2 नोटिस जारी करने के निर्देश दिए गए हैं। अनुपस्थित तकनीकी सहायकों को भी नोटिस जारी करने का निर्देश दिया गया है।

साथ ही, निर्देश दिया गया है कि किसी भी व्यक्ति द्वारा आवास स्वीकृति या किस्त के नाम पर हितग्राहियों से राशि मांगी नहीं जाएगी।

इस समीक्षा के दौरान, एनआरएलएम के अंतर्गत स्वसहायता समूहों की समीक्षा भी की गई, जैसे आरएफ, सीआरएफ, समूह निर्माण आदि। साथ ही, स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तहत व्यक्तिगत, सामुदायिक, शौचालय निर्माण, एमआईएस एंट्री आदि की भी समीक्षा की गई।

महात्मा गांधी नरेगा (मनरेगा) के अंतर्गत सभी क्षेत्रों पर विस्तृत समीक्षा की गई, जिसमें सीईओ जनपद, एसडीओ आरईएस, पीओ मनरेगा, आवास योजना टीम, एनआरएलएम टीम भी उपस्थित रहे।

इस समीक्षा सत्र ने सारंगढ़ क्षेत्र में ग्रामीण विकास के लिए नई दिशाएँ स्थापित की हैं और निरंतर समृद्धि की दिशा में कदम बढ़ाने का संकेत दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *