रायपुर : मुख्यमंत्री श्री विष्णुदेव साय ने जगदलपुर के लालबाग मैदान में किया ध्वजारोहण: तिरंगे झंडे को दी सलामी

मुख्यमंत्री श्री साय ने इस अवसर पर शहीद जवानों के परिजनों से मुलाकात की।कार्यक्रम में चित्रकोट विधायक श्री विनायक गोयल, पूर्व सांसद श्री दिनेश कश्यप, पूर्व विधायक श्री संतोष बाफना, पूर्व विधायक श्री सुभाऊ कश्यप, पूर्व विधायक श्री लच्छुराम कश्यप, पूर्व विधायक श्री राजाराम तोड़ेम सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधी, कमिश्नर श्री श्याम धावड़े, पुलिस महानिरीक्षक श्री पी. सुन्दरराज, सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी, कलेक्टर श्री विजय दयाराम के., वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री शशि मोहन सिंह, जिला एवं सत्र न्यायालय के न्यायाधीशगण, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन जगदलपुर अधिकारी श्री प्रकाश सर्वे सहित बड़ी संख्या में गणमान्य नागरिकगण और अधिकारी-कर्मचारी, स्कूली छात्र-छात्राएं उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री श्री साय ने इस महत्वपूर्ण अवसर पर शहीद जवानों के परिजनों से मुलाकात की। यह मुलाकात एक सम्मानजनक और भावनात्मक उत्सव के रूप में आयोजित की गई थी। इस कार्यक्रम को गौरवित करने के लिए चित्रकोट विधायक श्री विनायक गोयल, पूर्व सांसद श्री दिनेश कश्यप, पूर्व विधायक श्री संतोष बाफना, पूर्व विधायक श्री सुभाऊ कश्यप, पूर्व विधायक श्री लच्छुराम कश्यप, और पूर्व विधायक श्री राजाराम तोड़ेम सहित क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों ने भी अपनी उपस्थिति साबित की।

कार्यक्रम में कमिश्नर श्री श्याम धावड़े, पुलिस महानिरीक्षक श्री पी. सुन्दरराज, और सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। इसके साथ ही, कलेक्टर श्री विजय दयाराम, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री शशि मोहन सिंह, जिला एवं सत्र न्यायालय के न्यायाधीशगण, और जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन जगदलपुर अधिकारी श्री प्रकाश सर्वे भी उपस्थित थे।

इस सांसद, विधायक, और प्रशासनिक अधिकारियों के साथ-साथ, बहुत से गणमान्य नागरिकगण और अधिकारी-कर्मचारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे। यह समारोह एक संवेदनशील और समर्थनमय वातावरण में संपन्न हुआ था।

इस समारोह में स्कूली छात्र-छात्राएं भी उपस्थित थे, जो इस महत्वपूर्ण अवसर को और भी महत्वपूर्ण बनाने में योगदान किया। उन्होंने अपने समर्थन के रूप में इस समारोह को समृद्ध किया।

यह अवसर न केवल शहीद जवानों के परिवारों को सम्मानित करने का एक उत्कृष्ट उदाहरण प्रस्तुत करता है, बल्कि इससे समाज में गर्व और समर्थन की भावना भी बढ़ती है। इस प्रकार के कार्यक्रम जनसमूह के अभिवादन के लिए एक महत्वपूर्ण मंच प्रदान करते हैं, जो समाज में सामूहिक एकता और समरसता को बढ़ावा देते हैं।

इस प्रकार, इस समारोह ने विभिन्न स्तरों पर समाज को एक साथ लाने का संदेश दिया और शहीदों के साहस, समर्पण, और परिवारों के साथ भावनात्मक संबंध को समझाने का महत्वपूर्ण संदेश भी दिया। इस प्रकार के सामाजिक उत्सव एक साथ आने और एक-दूसरे के साथ जुड़ने का एक माध्यम होते हैं, जो हमारे समाज को मजबूत बनाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *